दिल जला देती है उनकी खामोशी

दिल में बसा कर उसका चेहरा खो गया मैं कहीं
देख के उसके चहरे को मैं सोया ही नही
बढ़ जाती है दिल की धड़कने उन्हे छूने से
बिना दीदार किए उनका दिल कही लगता नही
दिल जला देती है उनकी खामोशी
बिना बात किए उनसे दिन हमारा कटता नही
पाना है अब हर हाल मे उसको
बसी है मेरे जहाँ में उसकी ही तस्वीर हर कहीं

Share : facebooktwittergoogle plus
pinterest